संगठन के कार्य

  • 1- संगठन सभी जिलों में अपने प्रभारी नुयक्ति करेगी, जो कि इस तरह होगी।

  •       अध्यक्ष / संस्था कार्यकारिणी

  •        मंडल प्रभारी

  •       जिला प्रभारी

  •       उप जिलाप्रभारी

  •        तहसील प्रभारी

  •       ब्लॉक प्रभारी

  •        ग्रामसभा/वार्ड प्रभारी

  •        बूथ प्रभारी

  • 2-जनता अपनी समस्या अपने ग्राम / वार्ड प्रभारी को लिखित रूप से दे सकता है अथवा संगठन को पत्र, ईमेल, एवं मोबाइल एप्प के माधयम से दे सकता है।

  • 3-संगठन सिर्फ लिखित समस्याओं के लिए ही आवाज उठाएगा न की मौखिक समस्याओं पे।

  • 4-जनता की समस्या का जवाब संगठन अपने मोबाइल ऍप के माध्यम से सम्बंधित प्रभारियों को औगत कराएगा एवं शिकायतकर्ता को पत्र
          अथवा टेलीफोनिक पे माध्यम से औगत कराएगा।

  • 5-संगठन एक मिसकॉल नंबर लॉन्च करेगा जिसपे कोई भी व्यक्ति संगठन के विचारधारा से जुड़कर सदस्य बन सकता है एवं अपनी समस्याओं से
          अवगत करा सकता है।

  • 6- संगठन को जो भी आर्थिक सहायता मिलेगी उससे सिर्फ जनता की ही सहायता होगी न की किसी व्यक्ति विशेष की।

  • 7- संगठन की आर्थिक जानकारी हमेशा ऑनलाइन उपलब्ध रहेगी जो की कोई भी प्रभारी उसे देख सकता है।